रिजल्ट आएगा 70% 5 हजार लगेंगे, छत्तीसगढ़ में 10वी -12वी के बच्चो को आ रहे फेक कॉल्स

सरगुजा। सरगुजा संभाग समित प्रदेशभर में बोर्ड परीक्षा में नंबर बढ़ाने वाले फेक फोन कॉल्स को लेकर छत्तीसगढ़ बोर्ड ने स्टूडेंट्स और पेरेंट्स को सतर्क किया है। दरअसल छत्तीसगढ़ में 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं खत्म होने के बाद कॉपियां जांचने का काम जारी है। ऐसे में इन परीक्षाओं में शामिल स्टूडेंट के पास फर्जी कॉल्स आ रहे हैं। यह ठगी का नया तरीका है, खुद को बोर्ड कर्मचारी बताकर कॉल करने वाला छात्रों का नाम और रोल नंबर तक बता रहा है। नंबर बढ़ाने और कुछ विषय में फेल बता कर पास करने के नाम पर पैसों की मांग कर रहा है।

फोन कॉल सरगुजा जिले मैनपाट के गांव पेट की एक छात्रा के पास आया। छात्र को दो विषय में फेल बताकर कॉल करने वाले ने पैसे मांगे छात्र के नंबर पर एक दिन पहले ही मैसेज आया था। रिप्लाई करने पर फोन करने वाले ने खुद को छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल का अधिकारी बताकर उसे दो विषय में फेल बताया। छात्र के परिजन ने पूछा कि कितने पैसे लगेंगे तो फोन करने वाले ने 5 हजार मांगे और कहा कि बस एक दिन का समय है, परिजन ने कहा कि वह गरीब किसान परिवार से है, पैसे कम करने कहा तो 3 हजार में सौदा तय हुआ फोन करने वाले ने पैसे ट्रांसफर करने के लिए एक नंबर भी दिया।

रायगढ़ के भी एक स्टूडेंट को आया कॉल बोर्ड का अधिकारी बनकर रायगढ़ के एक दसवीं के छात्र के पिता को अज्ञात नंबर से कॉल आया। जिसमें कॉलर में छात्र का नाम, पिता का नाम, मां का नाम, रोल नंबर के आखिरी तीन अंक, परीक्षा केंद्र का नाम समेत पूरी जानकारी पिता को दी।

कॉलर ने कहा उसने दसवीं की परीक्षा दी थी और दो पेपर में फेल है बाकी जिम्मेदारी आप पर है। कॉलर ने कहा रिजल्ट अभी बना रहा हूं, छात्र के परिजन ने कहा कि अभी रिजल्ट जारी नहीं हुआ है ऐसा कभी भी नहीं हुआ है। कॉलर ने कहा कि बच्चे का चार नंबर काम आ रहा है, मैं आपका भला कर रहा हूं आपके ऊपर डिपेंड करता है। इसमें कुछ खर्च करना पड़ेगा। कॉलर ने कहा कि वह एक पेपर का 3 हजार लेता हैं। दो विषयों के लिए 6 हजार लगेगा कॉलर ने कहा कि फोन पे, गूगल पे करना होगा। मैं सर का नंबर दे दूंगा, उसमें तुरंत करना होगा तो फर्स्ट डिवीजन रिजल्ट बन जाएगा।

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने चेतावनी जारी की

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के उपसचिव ने चेतावनी जारी की है कि यह कॉल फर्जी है। माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर से इनका कोई संबंध नहीं है, छात्र और पालक ऐसे फर्जी कॉल से सतर्क रहें और भ्रमित ना हो फर्जी कॉल को लेकर यह भी सवाल उठ रहे हैं कि फोन करने वाले को छात्रों का नाम, नंबर और रोल नंबर की जानकारी कहां से मिली है। इस बारे में बोर्ड ने कुछ भी नहीं कहा है। 12वीं बोर्ड परीक्षा में इस साल 2 लाख 61 हजार 35 जबकि दसवीं में 3 लाख 45 हजार 543 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी है।

पुलिस में शिकायत करे

सरगुजा DEO अशोक सिंह ने कहा कि ऐसे कॉल की जानकारी उन्हें नहीं मिली है। जानकारी सामने आई तो आगे की कार्रवाई की जाएगी। छात्र और पालक ऐसे फोन कॉल से सावधान रहे और पुलिस को सूचना दे।

कोरिया जिले में भी छात्रों को ठगी के लिए कॉल आए है। जितेंद्र गुप्ता ने बताया कि बैकुंठपुर विकासखंड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय आनी के एक छात्रा को 9114891369 नंबर से कॉल आया उसने छात्रा और उसके पिता का नाम, परीक्षा केंद्र और रोल नंबर तक बताया खुद को छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल में कंप्यूटर ऑपरेटर बात कर फोन करने वाले ने छात्रा को फर्स्ट डिवीजन में पास करने का दावा करते हुए 4 हजार रुपए मांगे थे। हालांकि यह छात्र भी ठगी का शिकार होने से बच गया है, कोरिया कलेक्टर विनय कुमार लहंगे ने जिले के छात्रों को ऐसे फोन कॉल्स की शिकायत पुलिस से करने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

CG BREAKING : नक्सली आईईडी विस्फोट में आईटीबीपी के दो जवान घायल, तलाशी अभियान जारी

नारायणपुर। नक्सल प्रभावित इलाके में बड़ी घटना हुई है।...

आबकारी घोटाला में शामिल अरुणपति, अनवर और अरविंद की रिमांड खत्म, जल्द कोर्ट में पेश किया जाएगा

रायपुर। आबकारी घोटाले में गिरफ्तार पूर्व विशेष सचिव अरुणपति...