राजस्थान विधानसभा में हंगामा: राजेन्द्र गुढ़ा पर बड़ी कार्रवाई, अब कांग्रेस से किया निष्कासित …

जयपुर। कांग्रेस ने आज राजेन्द्र गुढ़ा पर एक और बड़ी कार्रवाई की है। कांग्रेस ने गहलोत मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए गए राजेन्द्र गुढ़ा को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। गुढ़ा की आक्रामकता और सदन में हुए हंगामे के बाद कांग्रेस ने बड़ा कदम उठाते हुए राजेन्द्र गुढ़ा को तत्काल प्रभाव से कांग्रेस से निष्कासित कर दिया है।

राजस्थान विधानसभा में सोमवार को मंत्रिमंडल से बर्खास्तगी के बाद राजेंद्र सिंह गुढ़ा के पहुंचते ही जमकर हंगामा हुआ। वह लाल डायरी लेकर पहुँचे और स्पीकर के सामने लहराने लगे। इतना ही नहीं, उन्होंने संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल का माइक भी नीचे कर दिया।

दरअसल, धारीवाल गुढ़ा को सदन से बाहर निकालने का प्रस्ताव रख रहे थे। दोनों में तकरार बढ़ने पर कांग्रेस विधायक रफीक खान बीच में आ गए और दोनों के बीच धक्का-मुक्की और हाथापाई हो गई।
इस घटनाक्रम के बाद स्पीकर ने गुढ़ा को सदन से बाहर निकालने के आदेश दिए और मार्शल बुलाकर उन्हें सदन से निकलवा दिया। वहीं, गुढ़ा ने कहा कि पहले सीएम साहब ने रसगुल्ले दिए थे, आज घूंसे मार दिए।

क्या है पूरा मामला पढ़िए..

राजस्थान में महिलाओं के खिलाफ वारदातों, अत्याचारों को लेकर ग्रामीण विकास मंत्री रहते हुए गुढ़ा ने शुक्रवार को विधानसभा में बहस के दौरान अपनी ही सरकार को घेरा था। उन्होंने कहा था कि- मणिपुर के बजाय कांग्रेस सरकार को अपने गिरेबां में झांकना चाहिए। सदन में हुई किरकिरी के बाद सरकार और पार्टी दोनों स्तर पर एक्शन शुरू हुआ और गुढ़ा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया। बर्खास्तगी के बाद गुढ़ा ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए और कहा कि वह सोमवार को सदन में बड़े खुलासे करेंगे। उसी के तहत आज वह लाल डायरी लेकर विधानसभा कार्यवाही में पहुंचे थे।

रो पड़े राजेन्द्र गुढ़ा..

सदन से निष्कासित होने के बाद बाहर मीडिया से बात करते हुए गुढ़ा रो पड़े। कहा- सदन में उन्हें बोलने नहीं दिया गया। कांग्रेसी मंत्रियों-विधायकों ने मारपीट की, धक्का दिया और घसीटकर बाहर निकाला है। इस पर स्पीकर सीपी जोशी को विधानसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

दोपहर 2 बजे के बाद जब दोबारा कार्यवाही शुरू हुई तो सारे घटनाक्रम को लेकर विपक्ष ने हंगामा कर दिया। BJP विधायक वेल में आ गए और लाल डायरियां लहराने लगे। थोड़ी देर तक हंगामे के बीच विधानसभा की कार्यवाही जारी रही। इस दौरान हंगामा बढ़ने पर एक घंटे के लिए दोबारा रोक दी गई।

कांग्रेस के मंत्री-विधायक बलात्कारी, इनका नार्को टेस्ट करवाएं : गुढ़ा

गुढ़ा ने कहा- इस प्रदेश की हर बहन-बेटी मेरी बहन-बेटियां हैं। मैं उन्हें अपनी बहन से भी बढ़कर मानता हूं। मैं महाराव शेखाजी का वंशज हूं, जिनकी तीन पीढ़ियों ने महिला सम्मान के लिए सब कुछ कुर्बान कर दिया। कांग्रेस के मंत्री और विधायक बलात्कारी हैं। मंत्री-विधायकों का नार्को टेस्ट करवाना चाहिए। इनमें से बहुत-से बलात्कारी हैं।

गुढ़ा को लाल डायरी सदन में नहीं रखने दी: नेता प्रतिपक्ष राठौड़

इस घटनाक्रम पर नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा- कांग्रेस विधायकों ने जिस तरह मारपीट की है, वह निंदनीय है। सैनिक कल्याण मंत्री रहे गुढ़ा लाल डायरी लेकर आए थे। वह राज खोलना चाहते थे। आज सदन में मैंने भी लाल डायरी का मुद्दा उठाया था। अपने ही विधायक पर कांग्रेस के विधायक जिस तरह टूट पड़े, वह शर्मनाक है। जब तक लाल डायरी का राज नहीं खुलेगा, हमारा संघर्ष जारी रहेगा। सदन साक्षी था गुढ़ा ने हाथापाई नहीं की। गुढ़ा को बोलने नहीं दिया गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

CG BREAKING : नक्सली आईईडी विस्फोट में आईटीबीपी के दो जवान घायल, तलाशी अभियान जारी

नारायणपुर। नक्सल प्रभावित इलाके में बड़ी घटना हुई है।...

आबकारी घोटाला में शामिल अरुणपति, अनवर और अरविंद की रिमांड खत्म, जल्द कोर्ट में पेश किया जाएगा

रायपुर। आबकारी घोटाले में गिरफ्तार पूर्व विशेष सचिव अरुणपति...