प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को श्रीनगर के दौरे पर

श्रीनगर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को श्रीनगर के दौरे पर हैं। पांच साल पहले अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में पीएम मोदी की यह सबसे बड़ी राजनीतिक रैली होने की उम्मीद है। क्योंकि 2019 के बाद कश्मीर में उनकी पहली रैली है। बख्शी स्टेडियम को तिरंगे और भाजपा के झंडों से सजाया गया है। श्रीनगर शहर को ड्रोन और क्वाडकॉप्टर के संचालन के लिए रेड जोन घोषित किया गया है। झेलम नदी में मार्कोस कमांडो तैनात हैं। पीएम मोदी रैली में 6400 करोड़ की 52 प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे।

कैसी है सुरक्षा व्यवस्था?

पूरे श्रीनगर में पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवानों को तैनात किया गया है। बख्शी स्टेडियम के आसपास के इलाके सुरक्षा किले में तब्दील हो गए हैं। कई जगहों पर बैरिकेड्स लगाए गए हैं। मॉनिटरिंग के लिए ड्रोन, क्वाडकॉप्टर, यूएवी, हेलिकॉप्टर और सीसीटी का इस्तेमाल किया जा रहा है। सुरक्षा एजेंसियों ने रैली में शामिल होने वाले लोगों का पहले ही सत्यापन कर लिया है। यहां तक कि रैली को कवर करने वाले पत्रकारों को भी जांच से गुजरना पड़ा और सुरक्षा सत्यापन के बाद ही पास जारी किए गए।

स्कूलों में अवकाश, परीक्षा स्थगित

पीएम मोदी के दौरे को लेकर कई श्रीनगर के कई स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है। गुरुवार को जम्मू-कश्मीर बोर्ड, कश्मीर और सेंट्रल यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। सूत्रों ने बताया कि लोगों को स्टेडियम तक पहुंचाने के लिए 1,100 से अधिक बसें लगाई गई हैं। श्रीनगर के एक प्रमुख स्कूल से लगभग 100 बसें मांगी गई हैं।

इन योजनाओं का होगा शुभआरंभ

विकसित भारत विकसित जम्मू-कश्मीर कार्यक्रम में पीएम मोदी शामिल होंगे।

5000 करोड़ रुपए के समग्र कृषि विकास कार्यक्रम की सौगात देंगे।

स्वदेश दर्शन और प्रसाद योजना के तहत 1400 करोड़ रुपए से अधिक पर्यटन क्षेत्र के प्रोजेक्ट्स का शुभारंभ करेंगे।

इसमें हजरतबल तीर्थ का इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट और श्रीनगर परियोजना भी शामिल है।

देखो अपना देश चलो इंडिया वैश्विक प्रवासी अभियान लॉन्च करेंगे।

चुनौती आधारित गंतव्य विकास योजना के तहत चयनित पर्यटन स्थलों का ऐलान होगा।

1041 कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र जारी किया जाएगा।

लखपति दीदी, किसान, उद्यमी आदि सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों से बातचीत होगी।

2 लाख लोगों के जुटने का दावा

बख्शी स्टेडियम की आधिकारिक बैठने की क्षमता 20,000 है, लेकिन बीजेपी का दावा है कि पीएम मोदी को सुनने के लिए दो लाख आएंगे। इसमें भारी भागीदारी पीएम मोदी के विकास एजेंडे और अनुच्छेद 370 को खत्म करने का समर्थन होगी। राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में विकास हो रहा है। औद्योगिक इकाइयां लग रही हैं। लोगों को नौकरियां मिल रही हैं। कश्मीर में भ्रष्टाचार खत्म हो गया है। जम्मू-कश्मीर के लोग अनुच्छेद 370 की बेड़ियां तोड़ने के लिए पीएम मोदी को सुनने आएंगे। रैली में दो लाख लोग शामिल होंगे।

तीन हफ्ते के भीतर पीएम मोदी का दूसरा दौरा

तीन हफ्ते से भी कम समय में पीएम मोदी का यह दूसरा जम्मू-कश्मीर दौरा है। 20 फरवरी को प्रधानमंत्री ने जम्मू में एक रैली को संबोधित किया था। पीएम मोदी की रैली को बीजेपी द्वारा कश्मीर घाटी में पैर जमाने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है, जहां उसने कभी विधानसभा या संसद के लिए सीट नहीं जीती है। पार्टी उम्मीद कर रही है कि पहाड़ी समुदाय को अनुसूचित जनजाति सूची में शामिल करने से उन्हें घाटी और जम्मू के मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में पैर जमाने में मदद मिल सकती है। कई पहाड़ी नेता पहले ही बीजेपी में शामिल हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

CG BREAKING : नक्सली आईईडी विस्फोट में आईटीबीपी के दो जवान घायल, तलाशी अभियान जारी

नारायणपुर। नक्सल प्रभावित इलाके में बड़ी घटना हुई है।...

आबकारी घोटाला में शामिल अरुणपति, अनवर और अरविंद की रिमांड खत्म, जल्द कोर्ट में पेश किया जाएगा

रायपुर। आबकारी घोटाले में गिरफ्तार पूर्व विशेष सचिव अरुणपति...